The Muhurat Of Bhojpuri Film Ganga Ki Gauri  Raising The Voice Of Women Empowerment Concludes

The Muhurat Of Bhojpuri Film Ganga Ki Gauri Raising The Voice Of Women Empowerment Concludes

नारी सशक्तीकरण की आवाज को बुलंद करती भोजपुरी फिल्म ‘गंगा की गौरी’ का  मुहूर्त सम्पन्न गीत इंटरटेनमेंट और पी डी आर फिल्म्स के बैनर तले  निर्मातद्वय सतीश विजय शंकर सिंह व प्रियंका सिंह More »

Global Musical Video BINDI Released On World Bindi Day To Celebrate Womanhood

Global Musical Video BINDI Released On World Bindi Day To Celebrate Womanhood

नारीत्व का जश्न मनाने के लिए विश्व बिंदी दिवस पर जारी किया गया वैश्विक संगीतमय वीडियो ‘बिंदी’ नारी सशक्तिकरण का प्रतीक है ‘बिंदी’ कर्मन्ये क्रिएशंस यूएस आधारित एक मीडिया समूह है। जिसने More »

880th Anniversary Of Nizami Ganjavi Celebrated At 5th Global Fashion And Design Week

880th Anniversary Of Nizami Ganjavi Celebrated At 5th Global Fashion And Design Week

Noida: H.E. Ilham Aliyev, President of Azerbaijan has signed an order to declare 2021 as a “Year of Nizami Ganjavi” in Azerbaijan. The 880th anniversary of the great poet and thinker Nizami More »

5th Global Fashion And Design Week Added Colors To Life

5th Global Fashion And Design Week Added Colors To Life

Noida: “Love, Peace and Unity through art and culture is the theme of 5th Global Fashion Week 2021 and we have tried our best to bring in 52 countries this time on the More »

Susi Ganeshan’s Bollywood Film Is Titled DIL HAI GRAY

Susi Ganeshan’s Bollywood Film Is Titled DIL HAI GRAY

Director Susi Ganeshan recently finished the shooting of his much-hyped film that stars Vineeth Kumar Singh, Urvashi Rautela and Akshay Oberoi in pivotal roles. The movie is a remake of the Tamil More »

Dilip Sen Composed Four Songs For Sanjay Kumar’s DIL KI DHADKAN

Dilip Sen Composed Four Songs For Sanjay Kumar’s DIL KI DHADKAN

संजय कुमार की ‘दिल की धड़कन’ के लिए दिलीप सेन ने तैयार किया चार गाना मुम्बई। हाल ही में बॉलीवुड के मशहूर संगीतकार दिलीप सेन ने अंधेरी स्थित अपने रिकॉर्डिंग स्टूडियो में More »

Kajal Rochwani  Chairperson of Royal Femme Club  Celebrates MAHALAYA Along With Her Members At Juhu Mumbai

Kajal Rochwani Chairperson of Royal Femme Club Celebrates MAHALAYA Along With Her Members At Juhu Mumbai

Kajal Rochwani, Chairperson of “Royal Femme Club” recently organized a small ritual on day of “Mahalaya”. This day is celebrated by Bengalis to invite Maa Durga to her “Maika” (mother’s place), ritual More »

Inauguration Of Festival Of Films From Kyrgyzstan Designed by Embassy of Kyrgyzstan In New Delhi In Association With ICMEI  At Marwah Studios

Inauguration Of Festival Of Films From Kyrgyzstan Designed by Embassy of Kyrgyzstan In New Delhi In Association With ICMEI At Marwah Studios

Noida: “Not very long ago we created Indo Kyrgyzstan Film and Cultural Forum to develop and promote relation between the people of two countries through art and culture. The association has grown More »

 

FILM WRITER ASSOCIATION [FWA] ELECTION AND AGM Started ON 16 OCTOBER 2016, 10 am Onwards

FILM WRITER ASSOCIATION [FWA] ELECTION AND AGM Started ON 16 OCTOBER 2016,10 am, AT Celebration Club, Lokhandwala Complex, Andheri West.
Those Who Have Not Reached Plz Reach and Vote For Your Own Benefit , Please Do Vote  For Betterment Of Association
दोस्तों,
तीन टर्म सेज्यादा  FWA पर कब्ज़ा जमाकर बैठे अंजुम राजबली और उनके साथी जलीस शेरवानी ,कमलेश पांडेजी ,और कुछ लोग फिल्म राइटर एसोसिएशन को अपनी जहागीर समझकर मनमानी कर रहे है | इन्हें कोई अपोजीशन नहीं चाहिए जो इनकी मनमानी रोके इसी लिए अपने सात इंडस्ट्री के कुछ अच्छे लोगो को सिर्फ नाम के लिए जोड़कर रखा है जिन्हें इनके  काले कारनामे के  बारे में समझने की फुरसत नहीं  उनलोगों के  सपोर्ट का गलत इस्तीमाल ये लोग कर रहे है |
अबकीबार इलेक्शन में अपनी हार को देखते हुए इन्होंने 16 जुलाई को SGM बुलाई जिसकी ज़रूरत नहीं थी जो काम ये लोग SGM में करना चाहते थे वह काम AGM के रोज़ करसकते थे उसके लिये एसोसिएशन के  लाखो रुपये  बरबाद करने की ज़रूरत नहीं थी |
मई महीने से AGM और इलेक्शन due थे फिर भी AGM न करते हुए SGM सिर्फ इसलिए कियी गयी मुझे और मेरे पैनल को और इनको अपोज करने वालों को  इलेक्शन से disqualified कर सके ऐसे कानून पास करने थे| मैं ने इनके षड़यन्त्र को पहचान कर ऑब्जेक्शन का पत्र लिखा उस के जवाब में प्रेसिडेंट जलीस शेरवानी जी ने  SGM में लोगो को आश्वाशन देते हुये कहा के ‘ ये क़ानून जो बन रहा है ये AGM और इलेक्शन के बाद लागु होंगे’  लेकिन उसे इसी इलेक्शन में लागू करके मुझे और मेरे पैनल को और इनके अपोझिशन वालों को disqualified करदिया गया | इसका जवाब Gen .sectretory  . कमलेश पांडेजी से पूछने पर उन्होंने  हमें इलेक्शन से दूर रखने का उनका मकसद काबुल किया |
SGM का साहरा लेकर जो गलत कानून बनाये गये उन्हें बदलना होंगा जो इस प्रकार है |यह हम AGM में करसकते है अगर नहीं कर पाये तो और 2 साल इनलोगो की मनमानी बर्दाश्त करनी होंगी |अगर मेरी बातो में आप लोगों को कोई तथ्य नज़र आता है तो बड़ी तादाद में अगम में आकर मेरा सात दीजिए  felow  मेंबर भी आकर अपना निषेद वयक्त  करे |
1] असोसिएशन का नाम जो कई सालों पहले हमारे बुज़र्ग़ राइटरों ने रखा था फिल्म राइटर अससोसिएशन [ FWA] जिसे बदलकर स्क्रीन राइटर एसोसिएशन [ SWA ] सिर्फ इसलिए रखागया कियुके अंजुम राजबली इस नाम से अपना क्लासेस का बिज़नस चलाते है |
2] बगैर AGM के परमिशन बढ़ायी हुयी हर फीस को कम करना |
3]इलेक्शन के नये क़ानून को कैंसिल करना और असोसिएट और फेलो मेंबर को भी Agm  और इलेक्शन में बराबरी का हक़ का क़ानून पास करना |
4] एसोसिएट और फेलो मेंबर को उनका हक दिलाना उनसे फीस पूरी लीजाती है फिर उन्हें बराबरी का हक़ भी मिलना चाहिये|
5] एसोसिएशन के बर्बाद किये हुए पैसे की वसूली उसके जिमेदार लोगो से करना |
6]ऑनलाइन वोटिंग को जबतक सारे सदस्यो को इस की जानकारी और सारे सदस्यो का email id एसोसिएशन के रिकॉर्ड में नहीं आते  तब तक इसे रोकना होंगा वरना गलत इस्तेमाल होंगा | जो इन लोगो का प्लान है। ये लोग अपनी खुर्सी को बचाने लिए कुछ भी करसकते है ।
7) इनके मनमानी के खिलाफ आवाज उठाने वालो को सस्पेड किया गया,उन लोगो को न्याय दिलायेंगे। असोसिअशन के ऑफीस से और खर्चे से अपनी वोटबँक ये लोग बना रहे ताके इन के पर्सनल काम चलते रहे। लीगल खर्चे के नाम पर सदस्यो के फंड को बरबाद कर रहे है । इसे रोकना होंगा। 18 सालो से असोसिअशन मे चिपके हुए लोगों के काम का हिसाब लेना है ।
ज्यादा से ज्यादा तादाद में AGM में आकर अन्याय के खिलाफ लड़ाई में सात दीजिये|हमारी ट्रेडयूनियन को ट्रेडयूनियन की तरह चलाना है प्रइवेट कंपनी की तरह काम करने वालों को उनके घर भिजवाना है|ये लोग असोसिअशन के स्टाफ और फण्ड का इस्तेमाल करके अपना business चला रहे है|इन लोगो के षड़यंत्र को बेनक़ाब करना है| मेम्बरो की मेडीकल या और कोई हेल्प की है  उका डिटेल बूक मे झपवा कर खुद की पब्लिसीटी कर रहे है और दो सालो मे 52लाख रुपये लिगल खर्च के नाम पर कीसे दिएगये उस का कोई ब्योरा नही है। असोसिअशन पर कब्जा जमाने का इनका इरादा ठिक ऩही है सावधान होजाए।

आपका मित्र
आशफाक़ खोपेकर

Print Friendly, PDF & Email